Lok Sabha Elections 2024: क्या नरेंद्र मोदी जी 2024 में दोबारा प्रधानमंत्री बन सकते हैं?

todaygossip.online
todaygossip.online 4 Min Read
4 Min Read
615-410-feature-single

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज भारत के सबसे लोकप्रिय और करिश्माई नेताओं में से एक हैं। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को लोकसभा चुनावों में लगातार दो बार शानदार जीत दिलाई है और उनकी व्यक्तिगत अनुमोदन रेटिंग लगातार ऊंची बनी हुई है।

modiji
Can Narendra Modi ji become Prime Minister again in 2024?

Lok Sabha Elections 2024:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज भारत के सबसे लोकप्रिय और करिश्माई नेताओं में से एक हैं। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को लोकसभा चुनावों में लगातार दो बार शानदार जीत दिलाई है और उनकी व्यक्तिगत अनुमोदन रेटिंग लगातार ऊंची बनी हुई है।

चूंकि अगला लोकसभा चुनाव नजदीक है, ऐसे में इस बात को लेकर काफी अटकलें चल रही हैं कि क्या मोदी जी तीसरा कार्यकाल हासिल कर पाएंगे।

PM मोदी के दोबारा चुने जाने के पक्ष में कारक

PM मोदी के दोबारा चुने जाने के पक्ष में कई कारक हैं।

सत्तासीन होने का लाभ: PM मोदी मौजूदा प्रधान मंत्री हैं, और सत्तासीनों को चुनावों में फायदा होता है।

व्यक्तिगत लोकप्रियता: PM मोदी आज भी भारतीय जनता के बीच बहुत लोकप्रिय हैं। इंडिया टुडे-सीवोटर के एक हालिया सर्वेक्षण में पाया गया कि 52.3% उत्तरदाताओं का मानना है कि PM मोदी 2024 में प्रधान मंत्री बनने के लिए सबसे उपयुक्त हैं।

मजबूत पार्टी मशीनरी: भाजपा के पास एक मजबूत पार्टी मशीनरी है जो PM मोदी को मतदाताओं को एकजुट करने में मदद कर सकती है।

आर्थिक प्रदर्शन: PM मोदी के नेतृत्व में भारतीय अर्थव्यवस्था अच्छी गति से बढ़ी है।

राष्ट्रीय सुरक्षा: PM मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा पर सख्त रुख अपनाया है, जिसका कई मतदाताओं पर असर पड़ा है।

PM मोदी के दोबारा चुने जाने के ख़िलाफ़ कारक

ऐसे कई कारक भी हैं जो PM मोदी के दोबारा चुने जाने के ख़िलाफ़ काम कर सकते हैं।

सत्ता विरोधी लहर: PM मोदी और भाजपा के खिलाफ कुछ सत्ता विरोधी लहर है। हाल के महीनों में अर्थव्यवस्था धीमी हो गई है और किसानों और समाज के अन्य वर्गों में असंतोष बढ़ रहा है।

विपक्षी एकता: 2024 के चुनाव में बीजेपी के खिलाफ विपक्षी पार्टियां एकजुट होने की कोशिश कर रही हैं. अगर वे सफल रहे तो PM मोदी के लिए जीतना मुश्किल हो सकता है।

सांप्रदायिक ध्रुवीकरण: भाजपा पर सांप्रदायिक आधार पर देश का ध्रुवीकरण करने का आरोप लगाया गया है। इससे कुछ मतदाता, विशेषकर मुस्लिम और ईसाई, अलग-थलग पड़ सकते हैं।

PM मोदी के दोबारा चुने जाने की प्रतिशत संभावना

यह निश्चित रूप से कहना मुश्किल है कि क्या PM मोदी 2024 में फिर से चुने जाएंगे। हालांकि, उनकी व्यक्तिगत लोकप्रियता, भाजपा की मजबूत पार्टी मशीनरी और देश के आर्थिक प्रदर्शन को देखते हुए, उनकी संभावनाएं अच्छी हैं।

इंडिया टुडे-सीवोटर के हालिया ओपिनियन पोल में अनुमान लगाया गया है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी 287 सीटें जीतेगी, जो बहुमत के लिए पर्याप्त होगी। इससे पता चलता है कि PM मोदी के दोबारा चुने जाने की अच्छी संभावना है।

निष्कर्ष

कुल मिलाकर, यह संभावना है कि नरेंद्र मोदी 2024 में प्रधान मंत्री के रूप में तीसरा कार्यकाल सुरक्षित करने में सक्षम होंगे। हालांकि, उन्हें सत्ता विरोधी लहर, विपक्षी एकता और सांप्रदायिक ध्रुवीकरण जैसी कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। यह देखना दिलचस्प होगा कि चुनावों से पहले वह इन चुनौतियों से कैसे निपटते हैं।

Share This Article
1 Comment